अखिलेश यादव पर कृषि मंत्री का पलटवार, बोले- उनकी बातों पर हंसती है जनता

नई दिल्ली: देश के 5 राज्यों में विधान सभा चुनावों को लेकर माहौल गर्म है. राजनीति की इस गरमागर्मी से उत्तर प्रदेश भी अछूता नहीं रहा है. इस चुनावी सिलसिले में पश्चिमी UP के लोगों का एक मुद्दा काफी अहम माना जा रहा है, वो है कृषि कानून. दरअसल केंद्र सरकार ने तीनों कृषि कानून तो वापस ले लिए हैं लेकिन फिर भी पश्चिमी यूपी के लोगों में ये मुद्दा शांत नहीं हुआ है. ऐसे में Zee News ने कृषि मंत्री का एक्सक्ल्यूसिव इंटरव्यू किया है. जानें ब्रह्म प्रकाश दुबे के सवालों पर क्या बोले कृषि मंत्री.

यहां देखें इंटरव्यू

सवाल- इस बार के चुनाव में क्या किसानों का मुद्दा रह गया है या लगता है खत्म हो गया?

जवाब- भारतीय जनता पार्टी की सरकार और जब से नरेंद्र मोदी प्रधानमंत्री बने हैं तब से लगातार किसानों की आमदनी में बढ़ोतरी हो, उस पर बड़ा काम हुआ है. किसान ने परीक्षण किया है, सरकारी सुविधाएं मिली हैं, उसके खेत में उत्पादन की बढ़ोतरी हुई है, उत्पादकता बड़ी है और किसानों का जो उत्पादन है, सरकार ने पहले से ज्यादा UPA सरकार की तुलना में दोगुनी खरीद की है.

सवाल- अखिलेश यादव कह रहे हैं किसानों का बीजेपी ने बंटाधार कर दिया. अखिलेश यादव ने कहा कि आप बबूल के पेड़ पर आम उगने की उम्मीद ना करें.

जवाब- अखिलेश यादव अपने गिरेबान में झांकें. अखिलेश यादव पब्लिक स्कूल (अंग्रेजी स्कूलों) के पढ़े हुए व्यक्ति हैं. अखिलेश यादव को खेती-किसानी का ना तो अनुभव है और ना ही ज्ञान है अखिलेश यादव और राहुल गांधी जब बहुत ताकत से झूठ बोलते हैं तो देश की जनता उनके वक्तव्य पर हंसती है और कुछ नहीं जब चुनाव परिणाम आएगा तो अखिलेश को अपनी हैसियत दिखाई दे जाएगी.

सवाल- कल (शुक्रवार को) जब प्रियंका गांधी से सवाल पूछा गया था उत्तर प्रदेश का मुख्यमंत्री का चेहरा कौन होगा तो उन्होंने कहा था मेरे अलावा आपको कोई देखता है क्या. आज (शनिवार को) उन्होंने पलटते हुए कहा कि मैंने तो वह आवेश में कहा था.

जवाब- प्रियंका गांधी और राहुल गांधी का जनता में संपर्क नहीं बढ़ रहा है. इनकी पार्टी में भी इनकी स्वीकारोक्ति नहीं है. जो यह लोग बोलते हैं इनके सलाहकार लिख कर देते हैं. जो नेतृत्व आज कांग्रेस को चला रहा है, वह नेतृत्व कांग्रेस को पूरी तरह से खत्म करने के लिए दृढ़ संकल्प है.

सवाल- जिस तरह से अखिलेश यादव ने अभी एक ट्वीट भी किया है. उन्होंने कहा उत्तर प्रदेश में बाबा ने बंटाधार किया है इसको किस तरह देखते हैं लगातार वह टारगेट कर रहे हैं योगी जी को.

जवाब- योगी जी ने उत्तर प्रदेश में जो काम अपने कार्यकाल के दौरान किया उसकी प्रशंसा उत्तर प्रदेश की पूरी जनता कर रही है. उन्होंने जो विकास का काम किया, गरीब लोगों को उनके हक दिलाया, यूपी में गुंडाराज हुआ करता था. आज कानून व्यवस्था का राज है. लिहाजा पूरा प्रदेश योगी जी पर भरोसा कर रहा है. योगी जी हमारे नेता हैं. योगी जी और मोदी जी के नेतृत्व में निश्चित रूप से भारतीय जनता पार्टी और अधिक बहुमत से सरकार बनाएगी.

सवाल- आपने गुंडाराज की जो बात की है, अभी मैं कई जिलों में गया हूं, लोगों ने कहा अब वह फ्री रूप से घूम सकते हैं. लगता है इसका फायदा बीजेपी को मिलेगा.

जवाब- स्वभाविक रूप से गुंडागर्दी खत्म करने का फायदा BJP को मिलेगा, जो अच्छा काम करता है. जनता उसका फायदा उसे देती है. मोदी जी की जितनी अच्छी योजनाएं थी, उनको योगी जी की सरकार ने अच्छे तरीके से लागू किया है. इसलिए निश्चित रूप से जनता प्रसन्न है और बीजेपी का समर्थन कर रही है.

सवाल- जो किसान संगठन पहले आंदोलन कर रहे थे. अब वह पंजाब में चुनाव लड़ने लगे हैं, ताल ठोकने लगे हैं. इसको किस तरह से देखते हैं?

जवाब- किसान संगठनों का जो विषय था, वह लगभग पूरा हो चुका है. अब उस पर ज्यादा टिप्पणी करने की आवश्यकता नहीं है. लेकिन मैं इतना कहना चाहता हूं भारतीय जनता पार्टी की सरकार किसानों के प्रति प्रतिबद्ध है और आगे भी रहेगी. मोदी जी के नेतृत्व में कृषि का कायाकल्प करने के लिए हम प्रतिबद्ध हैं.

सवाल- अखिलेश यादव ने घोषणा की है कि 2022 में सपा आएगी तो IT सेक्टर में 22 लाख नौकरियां देंगे.

जवाब- अखिलेश पहले भी सरकार में रहे हैं. उन्होंने कितनी नौकरियां लोगों को दी? अखिलेश जी 5 साल मुख्यमंत्री रहे. अखिलेश जी के राज में गुंडाराज को जनता भली-भांति देख चुकी है.

सवाल- अखिलेश ने एक ट्वीट किया है, उसको मैं आपको सुनाना चाहूंगा- जनता का इंकलाब बा, यूपी में बदलाव बा, अब के फूल के फुलवा, ठाटा बाबा सबके बंटाधार बा, डबल इंजन की फुस्स सरकार बा, आपस में सिर फुटबब्ल जूतम पैजार बा, अब के झूठ के फुलवा का बगीचा उजाड़ बा, बाइस में बाइसिकल  का चौचक भोकाल बा,

जवाब- ऐसे ट्वीट का लोग उपहास उड़ा रहे हैं, उनके पास योगी सरकार के खिलाफ कहने के लिए कुछ नहीं है जहां भी वह कहने की कोशिश करते हैं, जनता उनकी धज्जियां उड़ा देती है. अखिलेश भयभीत हैं लिहाजा वह तय नहीं कर पा रहे हैं कि चुनाव में कैसे जाएं.

सवाल- कोरोना के दौरान लगता है, पॉलिटिकल पार्टियों की चुनौती बढ़ गई है, इस दौरान प्रचार करने के लिए?

जवाब- स्वाभाविक रूप से, भारतीय जनता पार्टी तो एक संगठन आधारित पार्टी है. इस समय कोविड प्रोटोकॉल का पालन करते हुए, जैसा चुनाव आयोग का आदेश है. हम उसका पालन करते हुए प्रचार कर रहे हैं. कोरोना के दौरान चुनाव प्रचार की चुनौती बढ़ गई है. लेकिन स्वभाविक रूप से हमारे कार्यकर्ता पूरी तरह से तैयार हैं और इसमें लगे हुए हैं. भारतीय जनता पार्टी पांचो राज्य में चुनाव लड़ रही है मुझे भरोसा है कि इन सभी राज्यों में जनता का समर्थन मिलेगा.

सवाल- पश्चिमी उत्तर प्रदेश में क्या आप को नुकसान होगा क्योंकि किसान आंदोलन लंबा चलता रहा है?

जवाब- पश्चिमी उत्तर प्रदेश भारतीय जनता पार्टी के समर्थकों का इलाका है, उधर गन्ने की खेती होती है, गन्ने की कीमतें बढ़ी हैं. आज हम पश्चिम में देखें, दिल्ली से 3 घंटा लगता था मेरठ जाने में. आज आधा घंटा लगता है.

सवाल- योगी जी और मोदी जी के चेहरे पर ही क्या यह चुनाव हो रहा है?

जवाब- योगी जी उत्तर प्रदेश के नेता हैं और मोदी जी देश के नेता हैं दोनों के नेतृत्व में चुनाव लड़ रहे हैं.

LIVE TV

Source link