उपलब्धि: 142 देशों के समर्थन से भारत विश्व धरोहर समिति में चुना गया, मीनाक्षी लेखी ने कहा- ऐतिहासिक जीत

संयुक्त राष्ट्र, पीटीआई
Published by: सुरेंद्र जोशी
Updated Thu, 25 Nov 2021 10:08 PM IST

सार

विदेश राज्यमंत्री मीनाक्षी लेखी ने गुरुवार को ट्वीट कर कहा, ‘यह घोषणा करते हुए खुशी हो रही है कि भारत एशिया प्रशांत क्षेत्र से वर्ल्ड हेरिटेज कमेटी में चुना गया है। इस ऐतिहासिक जीत के लिए मैं हमारे सभी समर्थकों की आभारी हूं।’ 
 

मीनाक्षी लेखी, विदेश राज्य मंत्री
– फोटो : ANI

ख़बर सुनें

ख़बर सुनें

भारत संयुक्त राष्ट्र के सांस्कृतिक संगठन यूनेस्को की विश्व धरोहर समिति में चार साल के लिए सदस्य चुना गया है। लगातार दूसरे सप्ताह भारत का बड़ी उपलब्धि मिली है। पिछले सप्ताह वह यूनेस्को के एक्जीक्यूटिव बोर्ड में दोबारा चुना गया था। 

विदेश राज्यमंत्री मीनाक्षी लेखी ने गुरुवार को ट्वीट कर कहा, ‘यह घोषणा करते हुए खुशी हो रही है कि भारत एशिया प्रशांत क्षेत्र से वर्ल्ड हेरिटेज कमेटी में चुना गया है। इस ऐतिहासिक जीत के लिए मैं हमारे सभी समर्थकों की आभारी हूं।’ 

भारत से यूनेस्को (संयुक्त राष्ट्र शैक्षिक, वैज्ञानिक और सांस्कृतिक संगठन) ने ट्वीट कर बताया कि भारत 142 वोटों के साथ विश्व धरोहर समिति के लिए चुना गया है। उसका कार्यकाल 2021-25 तक चार साल का होगा। यह कमेटी विश्व विरासत संधियों के अमल, विश्व विरासत कोष के उपयोग, सदस्य देशों के अनुरोध पर उन्हें कोष प्रदान करने जैसे महत्वपूर्ण काम करती है। 

इससे पहले 17 नवंबर को भारत यूनेस्को के कार्यकारी मंडल में दोबारा चुना गया था। यह कार्यकाल भी चार साल का यानी 2021-25 तक रहेगा। इसके लिए उसे 164 देशों का समर्थन मिला था। 

विस्तार

भारत संयुक्त राष्ट्र के सांस्कृतिक संगठन यूनेस्को की विश्व धरोहर समिति में चार साल के लिए सदस्य चुना गया है। लगातार दूसरे सप्ताह भारत का बड़ी उपलब्धि मिली है। पिछले सप्ताह वह यूनेस्को के एक्जीक्यूटिव बोर्ड में दोबारा चुना गया था। 

विदेश राज्यमंत्री मीनाक्षी लेखी ने गुरुवार को ट्वीट कर कहा, ‘यह घोषणा करते हुए खुशी हो रही है कि भारत एशिया प्रशांत क्षेत्र से वर्ल्ड हेरिटेज कमेटी में चुना गया है। इस ऐतिहासिक जीत के लिए मैं हमारे सभी समर्थकों की आभारी हूं।’ 

भारत से यूनेस्को (संयुक्त राष्ट्र शैक्षिक, वैज्ञानिक और सांस्कृतिक संगठन) ने ट्वीट कर बताया कि भारत 142 वोटों के साथ विश्व धरोहर समिति के लिए चुना गया है। उसका कार्यकाल 2021-25 तक चार साल का होगा। यह कमेटी विश्व विरासत संधियों के अमल, विश्व विरासत कोष के उपयोग, सदस्य देशों के अनुरोध पर उन्हें कोष प्रदान करने जैसे महत्वपूर्ण काम करती है। 

इससे पहले 17 नवंबर को भारत यूनेस्को के कार्यकारी मंडल में दोबारा चुना गया था। यह कार्यकाल भी चार साल का यानी 2021-25 तक रहेगा। इसके लिए उसे 164 देशों का समर्थन मिला था। 

Source link