एक ही पद पर रह सकेगा कांग्रेस अध्यक्ष: एक व्यक्ति, एक टिकट फॉर्मूला लागू होगा; वोटर्स से भरवाया जा रहा फॉर्म

जयपुर3 घंटे पहलेलेखक: गोवर्धन चौधरी

कांग्रेस अध्यक्ष पद के उम्मीदवारों पर एक व्यक्ति-एक पद फॉर्मूला लागू होगा। कांग्रेस अध्यक्ष बनने वाले नेता के पास अगर दूसरा पद होगा तो उसमें से एक पद छोड़ना हाेगा। इसके साथ ही 100 दिन के अंदर उदयपुर डिक्लेरेशन को लागू करना होगा। कांग्रेस अध्यक्ष पद के वोटर्स से इसे लेकर ऑनलाइन फॉर्म भरवाया जा रहा है।

इस ऑनलाइन फॉर्म में कांग्रेस अध्यक्ष पद के उम्मीदवारों के नाम एक अपील है, जिस पर नए बने PCC- AICC मेंबर्स से साइन करवाए जा रहे हैं। सभी नए PCC- AICC मेंबर्स को यह सर्वे फार्म भेजा गया है। इस सर्वे फॉर्म के जरिए अध्यक्ष पद का चुनाव लड़ने की तैयारी कर रहे नेताओं को दूसरा पद छोड़ने का संकल्प लेने का उल्लेख कर नई बहस छेड़ दी है।

ऑनलाइन सर्वे फॉर्म में उल्लेख
ऑनलाइन सर्वे फॉर्म में कांग्रेस अध्यक्ष पद के उम्मीदवारों के नाम अपील है। इस अपील के मुताबिक कांग्रेस में अध्यक्ष और दूसरे पदों पर चुनाव लड़ने वाले हर उम्मीदवार को एक व्यक्ति-एक पद फॉर्मूले सहित उदयपुर डिक्लेरेशन की चार शर्तें पूरी करनी होंगी। इसमें 50 फीसदी पद युवाओं को देने, पांच साल के बाद लगातार पद पर नहीं रहने और एक परिवार एक टिकट की शर्त का पालन करवाने की अपील है। उदयपुर डिक्लेरेशन में तय हुए फैसलों को 100 दिन में नए अध्यक्ष को ग्राउंड तक लागू करने की भी अपील में शर्त है।

कांग्रेस पार्टी के अध्यक्ष के आगामी चुनाव में उम्मीदवारों से अपील की है।

कांग्रेस पार्टी के अध्यक्ष के आगामी चुनाव में उम्मीदवारों से अपील की है।

सर्वे फॉर्म में लिखा- 100 दिन में उदयपुर डिक्लेरेशन लागू करें
कांग्रेस अध्यक्ष के उम्मीदवारों के लिए PCC- AICC मेंबर्स से सर्वे फॉर्म भरवाया है। इस फॉर्म में अध्यक्ष पद के उम्मीदवारों से अपील करते हुए लिखा है- कांग्रेस पार्टी के अध्यक्ष के आगामी चुनाव में उम्मीदवारों से हमारी एक अपील है। हम अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष के चुनाव में प्रत्येक उम्मीदवार से अपील करते हैं कि वह ब्लॉक समितियों से CWC तक पार्टी के सदस्यों को शामिल करने और पद संभालने के पहले 100 दिनों के भीतर उदयपुर घोषणा को संपूर्ण रूप से लागू करने का सार्वजनिक संकल्प लें।

उदयपुर डिक्लेरेशन में तय हुई सभी प्रमुख बातों को 100 दिन में लागू करना होगा।

उदयपुर डिक्लेरेशन में तय हुई सभी प्रमुख बातों को 100 दिन में लागू करना होगा।

एक परिवार-एक टिकट, एक पद का संकल्प लेना होगा
पार्टी पदों और चुनावी टिकटों में महिलाओं, SC, ST, OBC और अल्पसंख्यकों के लिए रिजर्वेशन लागू करना होगा। नए लोगों और युवाओं के लिए स्थान बनाने के लिए 50 साल से नीचे 50% टर्म लिमिट, एक व्यक्ति एक पद, एक परिवार एक टिकट काे लागू करना होगा। उदयपुर डिक्लेरेशन में तय हुई सभी प्रमुख बातों को 100 दिन में लागू करना होगा।

राजस्थान के 400 पीसीसी मेंबर्स को भेजा गया ऑनलाइन फॉर्म
अध्यक्ष चुनाव में प्रदेश कांग्रेस कमेटी मेंबर – PCC- AICC मेंबर्स वोट कर सकेंगे। राजस्थान से 400 पीसीसी मेंबर बनाए गए हैं, ये चुने हुए मेंबर है, जिन्हें संगठन चुनाव के जरिए चुना हैं। 400 पीसीसी मेंबर्स में से 50 AICC मेंबर बनाए गए हैं। अध्यक्ष चुनाव में ये सभी ही वोट करेंगे।

उदयपुर में कांग्रेस के चिंतन शिविर के डिक्लेरेशन को लागू करना होगा।

उदयपुर में कांग्रेस के चिंतन शिविर के डिक्लेरेशन को लागू करना होगा।

अध्यक्ष के चुनाव से पहले दूसरा पद छोड़ने का संकल्प
PCC- AICC मेंबर्स कांग्रेस अध्यक्ष चुनाव में वोटर्स होते हैं। देश में इनकी संख्या 9000 के करीब है। अध्यक्ष के चुनाव से पहले वोटर्स को अध्यक्ष के उम्मीदवारों के लिए संकल्प तैयार करने का ऑनलाइन फॉर्म चर्चा का विषय बना हुआ है। इस फॉर्म के जरिए दो पदों पर बैठे नेताओं के लिए पद छोड़ने का दबाव पड़ेगा। साथ ही अध्यक्ष का चुनाव लड़ने वाले नेता को भी दूसरा पद छोड़ने के लिए प्रेशर पड़ेगा।

राजस्थान की सियासत के लिए मायने, गहलोत अध्यक्ष बने तो सीएम पद छोड़ना होगा
राजस्थान की सियासत में ताजा सर्वे चर्चा का विषय बना हुआ है। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत का नाम भी अध्यक्ष पद के उम्मीदवार के तौर पर चल रहा है,हालांकि गहलोत राहुल गांधी के नाम की पैरवी कर रहे हैं। नए पीसीसी डेलिगेट्स की शनिवार को हुई बैठक में भी सीएम गहलोत ने सभी से हाथ खड़े करवाकर राहुल गांधी को अध्यक्ष बनाने का प्रस्ताव पास करवाया था।

गहलोत ने खुद के अध्यक्ष बनने के सवाल पर कहा था कि सोनिया गांधी जो कहेंगी वह करूंगा। कांग्रेस अध्यक्ष के उम्मीदवारों को एक व्यक्ति-एक पद को लागू करने का संकल्प लेने के मायने साफ हैं कि अगर गहलोत अध्यक्ष बनते हैं तो उन्हें सीएम पद छोड़ना होगा। हालांकि गहलोत की उम्मीदवारी पर अभी तस्वीर साफ नहीं है। 24 से 30 सितंबर के बीच ही तस्वीर साफ होगी।

Source link