नई टेक्‍नोलॉजी से लैस ब्रह्मोस मिसाइल का परीक्षण सफल, सुपरसोनिक क्रूज मिसाइल है ये

नई दिल्‍ली: भारत ने गुरुवार को यहां ओडिशा के तट से सुपरसोनिक क्रूज मिसाइल ‘ब्रह्मोस’ का सफल परीक्षण किया जो नवीनतम प्रौद्योगिकी से लैस है. रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (डीआरडीओ) ने एक बयान में यह जानकारी दी.

नई तकनीकों से लैस है मिसाइल  

एजेंसी की खबर के अनुसार,  बयान में बताया कि बेहतर नियंत्रण प्रणाली सहित अन्य नई तकनीकों से लैस इस मिसाइल को डीआरडीओ के सहयोग से ब्रह्मोस एयरोस्पेस द्वारा गुरुवार सुबह लगभग 10 बजकर 30 मिनट पर चांदीपुर स्थित एकीकृत परीक्षण रेंज के लॉन्च पैड-3 से प्रक्षेपित किया गया. 

परीक्षण के सभी लक्ष्‍य हुए हासिल 

डीआरडीओ ने बयान में कहा, ”यह परीक्षण ब्रह्मोस कार्यक्रम को आगे ले जाने में मील का पत्थर है.” इसमें कहा गया कि परीक्षण के सभी लक्ष्यों को हासिल किया गया. साथ ही कहा गया कि यह मिसाइल उन्नत स्वदेशी प्रौद्योगिकी और बेहतर प्रक्षेपवक्र तकनीक से लैस है जो इसके प्रदर्शन एवं क्षमता को और बेहतर बनाती है. 

यह भी पढ़ें: यूक्रेन के समर्थन और रूस के विरोध में खुलकर सामने आया अमेरिका

अभी इसमें और हो रहा सुधार 

डीआरडीओ ने कहा कि संशोधित नियंत्रण प्रणाली के साथ मिसाइल को उन्नत क्षमता प्राप्त करने के लिए इसमें और सुधार किया गया है. भारतीय शस्त्र बलों द्वारा पहले से ही ब्रह्मोस को शामिल किया जा चुका है. हालांकि, समुद्री और जमीनी लक्ष्यों को निशाना बनाने की इसकी क्षमता और प्रदर्शन में और सुधार किया जा रहा है. 

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने सफल परीक्षण करने वाले दल को बधाई दी है. ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने भी डीआरडीओ को शुभकामनाएं दीं.  

LIVE TV

Source link