महाराष्ट्र: अपने ही मंत्रियों पर भड़के कांग्रेस नेता, कहा- राहुल का वादा पूरा नहीं कर रही सरकार; सोनिया को लिखी चिट्ठी

मुंबई से अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी (एआईसीसी) के नेता विश्वबंधु राय ने मंगलवार को कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी को एक पत्र लिखा है। इस पत्र में उन्होंने कहा है कि महा विकास अघाड़ी (एमवीए) सरकार में शामिल कांग्रेस के 12 मंत्री पार्टी के सच्चे हित में काम नहीं कर रहे हैं। उन्होंने आरोप लगाया कि वे घोषणापत्र में किए गए वादों को पूरा करने के लिए कोई बड़ा कदम नहीं उठा रहे हैं। 

चिट्ठी में कांग्रेस नेता ने कहा, “महा विकास अघाड़ी सरकार में कांग्रेस कोटे से 12 मंत्री हैं। लेकिन इन 12 मंत्रियों ने राज्य में पार्टी के आधार को मजबूत करने के लिए कुछ नहीं किया है। ये सभी अपने निहित स्वार्थ के लिए काम कर रहे हैं।”

राहुल गांधी ने किया था मुंबईवासियों से वादा
उन्होंने आगे कहा, ”कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने 2019 में मुंबईवासियों को एसआरए योजना के तहत 500 वर्ग फुट तक का घर देने का वादा किया था। कांग्रेस के मंत्रियों ने इस वादे को पूरा करने के लिए कोई पहल नहीं की। मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे मुंबई में 500 वर्ग फुट तक के घरों पर टैक्स माफ करने का सारा श्रेय लेते हैं। कांग्रेस पार्टी के घोषणापत्र की पूरी तरह से अनदेखी की जा रही है।”

NCP कर रही कांग्रेस नेताओं का शिकार
उन्होंने आरोप लगाया कि एनसीपी ने कांग्रेस के 18 पार्षदों का शिकार कर उन्हें अपनी पार्टी में शामिल कर लिया है। उन्होंने कांग्रेस पार्टी के कई अधिकारी एनसीपी और शिवसेना में शामिल होने के लिए तैयार बैठे हैं। राय ने यह भी कहा कि महाराष्ट्र सरकार ने राज्य में राहुल गांधी की रैली की अनुमति नहीं दी।

कांग्रेस अध्यक्ष पर गंभीर आरोप
राय ने कहा, “मुंबई कांग्रेस इकाई के अध्यक्ष आगामी मुंबई नगर निगम चुनाव के लिए शिवसेना के साथ गठबंधन की उम्मीद कर रहे हैं। अकेले चुनाव लड़ने की कोई तैयारी नहीं है। ऐसा लगता है कि मुंबई कांग्रेस अध्यक्ष की शिवसेना के साथ कुछ साझेदारी है।”

उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी ने महाराष्ट्र में बिजली बिल माफ करने का वादा किया था। उन्होंने कहा, “बिजली मंत्रालय कांग्रेस के पास होने के बाद भी राज्य में बिजली बिल माफ करने की दिशा में कोई ठोस कदम नहीं उठाया गया है।” 

Source link