शिंदे अब ‘शिवसेना नेता’ नहीं: उद्धव ने पद से हटाया, पार्टी तोड़ने की कोशिश का लगाया आरोप

  • Hindi News
  • National
  • Uddhav Thackeray VS Eknath Shinde | Maharashtra Shiv Sena MLA Disqualification Updates

मुंबई32 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

महाराष्ट्र के पूर्व CM और शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने वर्तमान CM एकनाथ शिंदे को पार्टी के नेता पद से हटा दिया है। उद्धव ठाकरे की ओर से पत्र जारी किया गया है। ठाकरे ने शिंदे पर पार्टी विरोधी गतिविधियों में शामिल होने और पार्टी तोड़ने की कोशिश करने का आरोप लगाया है।

बता दें कि बालासाहेब ठाकरे ने शिवसेना में रहते हुए शिवसेना प्रमुख के पद के बाद ‘शिवसेना नेता’ पद का सृजन किया था। पार्टी में सबसे बड़ा पद शिवसेना प्रमुख का होता है। ‘शिवसेना नेता’ पार्टी की नीति निर्धारण में भाग लेते हैं।

पार्टी की तरफ से जारी पत्र में शिवसेना सुप्रीमो ठाकरे ने कहा कि मुख्यमंत्री पद के लिए शिंदे पार्टी विरोधी गतिविधियों में लिप्त रहे हैं और उन्होंने स्वेच्छा से अपनी सदस्यता छोड़ दी है। उद्धव ठाकरे की साइन की गई चिट्‌ठी में कहा गया है, ‘शिवसेना प्रमुख के रूप में निहित शक्तियों का प्रयोग करते हुए मैं आपको पार्टी संगठन में शिवसेना नेता के पद से हटाता हूं।’

शिवसेना अध्यक्ष उद्धव ठाकरे ने बड़ा एक्शन लेते हुए एकनाथ शिंदे को पार्टी नेता पद से हटा दिया है।

शिवसेना अध्यक्ष उद्धव ठाकरे ने बड़ा एक्शन लेते हुए एकनाथ शिंदे को पार्टी नेता पद से हटा दिया है।

सरकार के बाद अब शिवसेना की लड़ाई
महाराष्ट्र में 10 दिन तक चले सियासी ड्रामे के बाद गुरुवार को भाजपा के समर्थन से शिवसेना नेता एकनाथ शिंदे मुख्यमंत्री बने। वहीं भाजपा के देवेंद्र फडणवीस को डिप्टी CM बनाया गया। CM बनने के बाद और उससे पहले भी एकनाथ शिंदे अपने गुट को असली शिवसेना बताते हुए कह रहे हैं कि वह बाल ठाकरे के हिंदुत्व के रास्ते पर चल रहे हैं।

शिंदे के विश्वास मत के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट पहुंचे उद्धव
इससे पहले, शुक्रवार को शिंदे सरकार के विश्वास मत के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में शिवसेना की याचिका पर सुनवाई हुई। सुनवाई के दौरान कोर्ट ने कहा कि यह मामला हम 11 जुलाई को ही सुनेंगे। कोर्ट की टिप्पणी के बाद वकील कपिल सिब्बल भड़क गए और कहा- डेमोक्रेसी का डांस नहीं चल रहा, जिस पर कोर्ट ने कहा कि हम आंख खोलकर बैठे हुए हैं।

शिंदे ने पलटा उद्धव सरकार का फैसला
इधर, एकनाथ शिंदे ने महाराष्ट्र का मुख्यमंत्री बनते ही आरे कॉलोनी को लेकर उद्धव सरकार का फैसला पलट दिया है। नए मुख्यमंत्री की शपथ ग्रहण के तुंरत बाद राज्य सरकार ने सॉलिसिटर जनरल को निर्देश दिया है कि मेट्रो कार शेड मुंबई की आरे कॉलोनी में ही बनाया जाए।

गुरुवार रात को CM शिंदे और डिप्टी CM देवेंद्र फडणवीस ने कैबिनेट बैठक की थी।

गुरुवार रात को CM शिंदे और डिप्टी CM देवेंद्र फडणवीस ने कैबिनेट बैठक की थी।

फडणवीस ने जश्न में आने से इनकार किया
फडणवीस की कथित नाराजगी की चर्चा को और अधिक बल तब मिला, जब उन्होंने शुक्रवार को भाजपा कार्यालय में होने वाले जश्न का बायकॉट कर दिया। इससे पहले, राज्यसभा और MLC के चुनाव परिणाम के बाद फडणवीस जश्न मनाने कार्यालय पहुंचे थे। उद्धव सरकार गिरने के बाद भी फडणवीस की मिठाई खाते तस्वीर सामने आई थी।

सांसद नवनीत राणा और उनके विधायक पति रवि राणा ने शुक्रवार को डिप्टी सीएम देवेंद्र फडणवीस से मिलकर उन्हें बधाई दी। दोनों हनुमान चालीसा पढ़ने पर जेल जा चुके हैं।

सांसद नवनीत राणा और उनके विधायक पति रवि राणा ने शुक्रवार को डिप्टी सीएम देवेंद्र फडणवीस से मिलकर उन्हें बधाई दी। दोनों हनुमान चालीसा पढ़ने पर जेल जा चुके हैं।

हालांकि चर्चा ये भी है कि जश्न का आयोजन करने वाले मुंबई भाजपा अध्यक्ष विधायक मंगल प्रभात लोढ़ा फडणवीस विरोधी गुट के है। देवेंद्र मुंबई भाजपा अध्यक्ष पद से लोढ़ा को हटाकर अपने पसंदीदा सांसद मनोज कोटक को अध्यक्ष बनाना चाहते हैं।

गोवा पहुंचे शिंदे, विधायकों के डांस पर जताई नाराजगी

गोवा के होटल में बागी विधायकों से मिलकर निकलते महाराष्ट्र के CM शिंदे।

गोवा के होटल में बागी विधायकों से मिलकर निकलते महाराष्ट्र के CM शिंदे।

महाराष्ट्र के नए मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे शुक्रवार को गोवा पहुंचे और अपने समर्थक विधायकों से मुलाकात की। उन्होंने उद्धव ठाकरे के इस्तीफे के बाद गोवा के होटल में ठहरे बागी विधायकों के डांस पर नाराजगी जताई है। होटल से निकलकर शिंदे ने कहा कि वे शनिवार को विधायकों के साथ मुंबई में बैठक करेंगे। यानी सभी विधायक शनिवार को मुंबई पहुंचेंगे और मीटिंग में शामिल होंगे। नई सरकार ने 3 और 4 जुलाई को विधानसभा का विशेष सत्र बुलाया है। शिंदे सरकार इस दौरान अपना बहुमत साबित करेगी। इसके बाद नए मंत्रिमंडल पर भी चर्चा होने की संभावना है।

खबरें और भी हैं…

Source link