श्रद्धा मर्डर केस में पुलिस को अब तक क्या सबूत लगे हाथ, क्या हैं बकाया ?

श्रद्धा मर्डर केस- India TV Hindi News

Image Source : INDIA TV
श्रद्धा मर्डर केस

दिल्ली के महरौली में हुए श्रद्धा हत्याकांड से पूरा देश सदमे में है। जो भी इस हत्याकांड के बारे में सुन रहा है वह आरोपी आफताब को फांसी देने की मांग कर रहा है। पुलिस ने आरोपी आफताब को गिरफ्तार कर लिया है और कोर्ट ने सूए रिमांड में भी भेज दिया है। जिसके बाद पुलिस इस हत्याकांड से जुड़े तमाम सबूत जुटाने में लगी है, जिससे कोर्ट में सुनवाई के दौरान इन्हें पेश किया जा सके और आरोपी के अपराध को साबित किया जा सके। 

पुलिस ने अभी तक कई सबूत जुटाए है और कई सौत अभी भी पुलिस के हाथ नहीं लगे हैं। आफताब की निशानदेही पर पुलिस से मृतका श्रद्धा से जुड़े कई वस्तुओं को बरामद किया है। महरौली और छतरपुर के जंगलों से हड्डियां भी बरामद हुई हैं और कई लोगों के बयान भी लिए गए हैं। लेकिन अब सवाल उठता है कि क्या यह सब सबूत कोर्ट में आरोपी आफताब के अपराध को साबित कर पाएंगे? जानिए पुलिस को अब तक क्या हाथ लगा है और अभी तक किन सबूतों को तलाश की जा रही है। 

पुलिस को अभी तक हड्डियों के 13 टुकड़े मिले 

मामले के खुलासे के बाद महरौली और छतरपुर के जंगलों में आफताब की बताई गई जगहों से अब तक 13 से ज्यादा हड्डियां बरामद हुई हैं। पुलिस ने इनकी जांच कराई, जिसमें सामने आया कि यह सभी हड्डियां इंसान की ही हैं। अब इसका डीएनए टेस्ट और पोस्टमार्टम होगा। जिससे मालूम पड़ सके कि यह हड्डियां श्रद्धा की ही हैं। लेकिन पुलिस को अभी श्रद्धा का सिर व धड़ नहीं मिला है। 

श्रद्धा मर्डर केस

Image Source : FILE

श्रद्धा मर्डर केस

बाथरूम में मिले खून के धब्बे 

आफताब ने पुलिस के सामने कुबूल किया है कि उसने श्रद्धा की हत्या के बाद उसके शव के बाथरूम में टुकड़े किये। जिसके बाद पुलिस ने इस बयान को सत्यापित करने के लिए बाथरूम की जांच भी की। जांच के दौरान आफताब के बाथरूम में कुछ जगहों पर खून के धब्बे भी मिले हैं। इसके अलावा जिस फ्रिज में श्रद्धा के शव के टुकड़ों को रखा गया था, वो भी पुलिस ने बरामद कर लिया है। 

लाश ठिकाने लगाने के लिए इंटरनेट पर किया सर्च 

आरोपी आफताब ने पुलिस को बयान दिया है, जिसमें उसने माना अहिया कि उसने श्रद्धा की हत्या गला दबाकर की थी। जिसके बाद उसकी लाश को ठिकाने लगाने के लिए उसने इंटरनेट पर काफी कुछ सर्च किया था। इसमें उन एसिड के बारे में भी पता लगाया था, जिसके जरिए खून के धब्बे मिट सकते थे। इसका प्रयोग करके आफताब ने फ्रिज से खून के धब्बे साफ किए थे। इसके अलावा बाथरूम में भी इसका प्रयोग किया था।  

श्रद्धा मर्डर केस

Image Source : FILE

श्रद्धा मर्डर केस

घर से एक धारदार हाथियार हुआ बरामद 

जांच के दौरान पुलिस ने आरोपी आफताब के घर से एक धारदार निकिल हथियार बरामद किया है। कहा जा रहा है कि इसी से उसने श्रद्धा की लाश के टुकड़े किये हैं। लेकिन अभी इसकी पुष्टि नहीं हुई है। इसके साथ ही पुलिस ने घर से कई कपड़े भी बरामद किये हैं। इसके साथ ही इस मामले से जुड़े कई सबूत पुलिस ने जुटाए हैं जो कोर्ट में सुनवाई के दौरान अहम साबित होंगे। 

दोस्तों की गवाही होगी अहम 

श्रद्धा ने आफताब के साथ पिछले कई वर्षों से रह रही थी। आफताब के बारे श्रद्धा ने अपने कई दोस्तों को बताया था। उसने अपन दोस्तों को बताया था कि आफताब हमेशा श्रद्धा को मारता-पीटता था। एक दोस्त को तो श्रद्धा ने यहां तक बताया था कि उसे आफताब मार डालेगा। श्रद्धा की कुछ पुरानी तस्वीरें भी इस मामले में अहम सबूत के तौर पर पेश होंगे। जिनमें उसे चोट लगी है। 

श्रद्धा मर्डर केस

Image Source : FILE

श्रद्धा मर्डर केस

दो डॉक्टरों के बयान अहम सबूत 

इसके साथ ही इस हत्याकांड में दो डॉक्टरों की भी गवाही अहम साबित होगी। इनमें से एक डॉक्टर ने कुछ महीनों पहले श्रद्धा का इलाज किया था। इसके अलावा दूसरे डॉक्टर वह हैं, जिसने आफताब के चोतिअल हाथ का इलाज किया था। बताया जाता है कि जब आफताब श्रद्धा के शव के टुकड़े कर रहा था, उस वक्त उसके हाथों में भी चोट लगी थी। जिसका इलाज कराने के लिए वह डॉक्टर के पास गया था। अब इन दोनों डॉक्टरों की गवाही इस मामले में अहम होगी। 

श्रद्धा मर्डर केस

Image Source : FILE

श्रद्धा मर्डर केस

इन सबूतों को जुटाना अभी भी बकाया 

श्रद्धा हत्याकांड में पुलिस ने अभी तक कई अहम सबूत जूता लिए हैं लेकिन अभी तक पुलिस को वह हथियार नहीं मिला है, जिससे श्रद्धा के शव के टुकड़े किए गए थे। इसके अलावा श्रद्धा का मोबाइल फोन, उसके और आफताब के खून से सने कपड़े की बरामदगी भी नहीं हो पाई है। इसके अलावा जिस कटर से श्रद्धा के शव के टुकड़े किए थे उसे आफताब ने एक कूड़ेदान में फेंक दिया था। खून से सने कपड़ों को दिल्ली नगर निगम की कूड़े वाली गाड़ी में फेंक दिया था। पुलिस को अभी भी इन तमाम सबूतों की तलाश है। इन सबूतों के बिना पुलिस कोर्ट में सुनवाई के दौरान अपना पक्ष मजबूती से नहीं रख पाएगी और इसका फायदा आरोपी पक्ष उठा सकता है। 

 

function loadFacebookScript(){
!function (f, b, e, v, n, t, s) {
if (f.fbq)
return;
n = f.fbq = function () {
n.callMethod ? n.callMethod.apply(n, arguments) : n.queue.push(arguments);
};
if (!f._fbq)
f._fbq = n;
n.push = n;
n.loaded = !0;
n.version = ‘2.0’;
n.queue = [];
t = b.createElement(e);
t.async = !0;
t.src = v;
s = b.getElementsByTagName(e)[0];
s.parentNode.insertBefore(t, s);
}(window, document, ‘script’, ‘//connect.facebook.net/en_US/fbevents.js’);
fbq(‘init’, ‘1684841475119151’);
fbq(‘track’, “PageView”);
}

window.addEventListener(‘load’, (event) => {
setTimeout(function(){
loadFacebookScript();
}, 7000);
});

Source link