सुप्रीम कोर्ट के पास अधेड़ व्यक्ति ने की आत्मदाह की कोशिश, गंभीर हालत में अस्पताल में कराया भर्ती

सुप्रीम कोर्ट की नई बिल्डिंग के पास शुक्रवार को एक अधेड़ व्यक्ति द्वारा आत्मदाह की कोशिश करने का मामला सामने आया है। व्यक्ति को गंभीर हालत में अस्पताल ले जाया गया है।

जानकारी के अनुसार, सुप्रीम कोर्ट गेट नंबर-1 के बाहर राजा बाबू गुप्ता नाम के एक शख्स ने खुद को आग लगा ली। घायल हालत में उसे लोक नायक जय प्रकाश (LNJP) अस्पताल में भर्ती कराया गया है। आत्मदाह करने की कोशिश के पीछे वजह अभी साफ नहीं है। घायल शख्स नोएडा का रहने वाला है और सेक्टर-128 की एक फैक्ट्री में काम करता है। दिल्ली पुलिस इस घटना की जांच कर रही है।

बता दें कि, इसी तरह की एक और घटना बीते साल 16 अगस्त 2021 को भी हुई थी, तब सुप्रीम कोर्ट के गेट नंबर डी के सामने एक 24 वर्षीय महिला और 27 वर्षीय पुरुष ने कथित तौर पर खुद को आग लगा ली थी और बाद में इलाज के दौरान अस्पताल में उनकी मौत हो गई थी। 

आत्मदाह से पहले युवती ने सहयोगी के साथ फेसबुक लाइव पर एक वीडियो रिकॉर्ड किया, जिसमें उसने अपनी पहचान बताई और आरोप लगाया था कि उसने 2019 में अतुल राय के खिलाफ दुष्कर्म का मामला दर्ज कराया था। युवती ने आरोप लगाया था कि पुलिस के कुछ वरिष्ठ अधिकारी और अन्य लोग आरोपी का साथ दे रहे हैं।

फेसबुक लाइव वीडियो में युवती ने दावा किया कि उत्तर प्रदेश की स्थानीय अदालत ने उसके खिलाफ गैर-जमानती वारंट जारी किया है और न्यायाधीश ने उसे समन भी जारी किया है। युवती ने अपनी जान को खतरा बताते हुए मार्च में सुप्रीम कोर्ट में अर्जी देकर दुष्कर्म मामले की सुनवाई प्रयागराज से दिल्ली की अदालत में स्थानांतरित करने का अनुरोध किया था। बाद में अगस्त में, वाराणसी की एक स्थानीय अदालत ने आरोपी सांसद के भाई द्वारा दर्ज कराई गई फर्जीवाड़े की शिकायत के आधार पर युवती के खिलाफ गैर-जमानती वारंट जारी किया था।  

Source link