Eoin Morgan Retires: इंग्लैंड को वर्ल्ड कप दिलाने वाले कप्तान इयोन मॉर्गन ने लिया संन्यास, खराब फॉर्म से थे परेशान

इंग्लैंड की वनडे और टी-20 टीम के कप्तान इयोन मॉर्गन ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास ले लिया है। इंग्लैंड को 2019 विश्व कप जिताने वाले मॉर्गन इन दिनों खराब फॉर्म और फिटनेस से जूझ रहे थे। वनडे विश्व कप के बाद से ही वह फॉर्म के लिए जूझ रहे थे। तब से वह सिर्फ एक शतक लगा सके थे। वहीं, नीदरलैंड के खिलाफ टीम ने वनडे में 498 रन बनाकर सर्वाधिक उच्चतम स्कोर बनाया, लेकिन मॉर्गन दो पारियों में शून्य पर आउट हो गए।

35 वर्षीय कप्तान पिछली 26 पारियों में सिर्फ एक अर्धशतक लगा सके थे। उनकी जगह जोस बटलर को वनडे और टी-20 की कमान सौंपी जा सकती है। बटलर ने आईपीएल में शानदार प्रदर्शन करते हुए सर्वाधिक रन बनाए थे।

मॉर्गन ने 225 वनडे में 39.75 की औसत से 6957 रन बनाए हैं। उनका स्ट्राइक रेट 93.89 है। वहीं, 115 टी-20 मैचों में 28.58 की औसत से 2458 रन बनाए हैं। इसमें स्ट्राइक रेट 136.17 है। 35 साल के मॉर्गन ने 2012 में टी-20 की कमान और 2014 में वनडे की कप्तानी संभाली थी। मॉर्गन की अगुवाई में इंग्लैंड की टीम कई बार वनडे में 400 का आंकड़ा पार कर चुकी है। मौजूदा समय में वनडे क्रिकेट के तीन सबसे बड़े स्कोर इंग्लैंड के ही नाम हैं। 

इयोन मॉर्गन ने नीदरलैंड के खिलाफ वनडे सीरीज से पहले कहा था- अगर मुझे नहीं लगता कि मैं काफी अच्छा हूं या मुझे नहीं लगता कि मैं टीम में योगदान दे पा रहा हूं, तो मैं संन्यास ले लूंगा। मॉर्गन का प्रदर्शन आईपीएल में भी कुछ खास नहीं रहा था।

आईपीएल 2021 में उन्होंने अपनी कप्तानी में कोलकाता नाइट राइडर्स को फाइनल में पहुंचाया था। हालांकि, बल्लेबाजी में वह फ्लॉप रहे थे। यही वजह रही कि आईपीएल 2022 के ऑक्शन में उन्हें किसी ने नहीं खरीदा था। उनकी टीम जीत रही है, लेकिन मॉर्गन संघर्ष करते नजर आ रहे थे। यही वजह थी कि उन्होंने क्रिकेट को अलविदा कह दिया।

Source link