Karnataka: ‘क्या RSS के लोग मूल रूप से भारतीय हैं’, इस पूर्व मुख्यमंत्री के बयान पर छिड़ा विवाद

Siddaramaiah statement on RSS: कर्नाटक (Karnataka) के पूर्व मुख्यमंत्री सिद्धारमैया ने बीफ पर विवादित बयान देने के बाद अब राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) पर निशाना साधा है.  दरअसल जब से प्रदेश में ये मांग की गई है कि कन्नड की दसवीं तक की किताबों में संघ संस्थापक हेडगेवार (K B Hedgewar) के भाषण जोड़े जाएं, तब से विपक्ष लगातार कर्नाटक की जनता पर RSS की विचारधारा को थोपने का आरोप लग रहा है. अब इसी कड़ी में सिद्धारमैया ने भी संघ पर तंज कसते हुए विवादास्पद बयान दिया है. 

‘क्या RSS के लोग मूल रूप से भारतीय हैं’

कर्नाटक विधानसभा मे विपक्ष के नेता और सूबे के पूर्व मुख्यमंत्री रह चुके वरिष्ठ कांग्रेसी नेता सिद्धारमैया ने आरएसएस (RSS) से जुड़े लोगों के भारतीय होने पर ही सवाल खड़ा कर दिया है. कांग्रेस नेताओं को संबोधित करते हुए सिद्धारमैया ने कहा, ‘ये संघ के लोग क्या मूल रूप से भारतीय हैं? हमे इन मुद्दों पर बहस नहीं करनी है. क्या आर्यन इस देश से आते हैं? क्या वे ड्राविडियन हैं? हमे हर मुद्दे की जड़ तक पहुंचने की जरूरत है.’

ये भी पढ़ें- KS Eshwarappa: बीजेपी MLA ने पूछा, क्या पाठ्यपुस्तकों में जिन्ना का पाठ किया जाए शामिल? सिलेबस में हेडगेवार को लेकर कही ये बात

सरकार ने दिया जवाब

वहीं इस बयान के बाद कर्नाटक की सियासी गलियों में बवाल मच गया है. सिद्धारमैया और विपक्ष के अन्य नेताओं के ऐसे बयानों पर राज्य के शिक्षा मंत्री बी सी नागेश का कहना है कि किताब में सिर्फ भाषण को सम्मिलित करने की बात हो रही है उसमें संघ या हेडगेवार के बारे में कुछ नहीं बताया जा रहा है. ऐसे में जो लोग इसे विवाद बनाने की कोशिश कर रहे हैं उन्होंने ठीक तरीके से किताब नहीं पढ़ी है.’

LIVE TV

 

Source link