Vijay Sethupathi: विजय सेतुपति की हिंदी सिनेमा में बोहनी पर बट्टा, पहली फिल्म सीधे गई ओटीटी पर

विजय सेतुपति
– फोटो : अमर उजाला ब्यूरो, मुंबई

दक्षिण भारतीय फिल्मों का बड़ा नाम बन चुके अभिनेता विजय सेतुपति की पहली हिंदी फिल्म ‘मुंबईकर’ अब सिनेमाघरों में रिलीज नहीं होगी। लंबे समय तक फिल्म वितरकों की राह तकती रही सिनेमैटोग्राफर से निर्देशक बने संतोष सिवन की फिल्म अब सीधे ओटीटी पर रिलीज होगी। पिछले साल की पहली तारीख को इस फिल्म का फर्स्ट लुक दिग्गज फिल्म निर्माता करण जौहर और मेगा बजट फिल्मों के चर्चित निर्देशक एस एस राजामौली ने जारी किया था। शाहरुख खान और करीना कपूर की बहुचर्चित फिल्म ‘अशोका’ से 19 साल पहले हिंदी सिनेमा में बतौर निर्देशक अपनी पारी शुरू करने वाले सेलेब्रिटी सिनेमैटोग्राफर संतोष सिवान की इस फिल्म का ओटीटी सौदा हो चुका है और इसका आधिकारिक ऐलान भी जल्द होने वाला है।

फिल्म मुंबईकर
– फोटो : अमर उजाला ब्यूरो, मुंबई

पुणे फिल्म इंस्टीट्यूट से पढ़कर निकले बेस्ट सिनेमैटोग्राफर के चार नेशनल फिल्म अवार्ड समेत अब तक कुल 11 नेशनल फिल्म अवार्ड जीतने वाली फिल्मों में शामिल रहे संतोष सीवन का कैमरा सिल्वर स्क्रीन को कैनवस समझ कर तस्वीरें उकेरता है। कहा जा रहा है कि ‘स्लमडॉग मिलेनियर’ और ‘गली ब्वॉय’ के बाद ‘मुंबईकर’  ऐसी फिल्म होगी जिसमें मुंबई को और भी ज्यादा गहराई से दिखाया जाएगा। फिल्म में मुख्य भूमिकाएं निभाने के लिए विक्रांत मैसी, विजय सेतुपति, तान्या मानिकतला, संजय मिश्रा, रणवीर शौरी और सचिन खेडेकर को लिया गया है। फिल्म ‘मुंबईकर’ के साथ विजय सेतुपति हिंदी फिल्मों में अपने करियर की शुरुआत करने जा रहे हैं। आमिर खान ने इससे पहले ‘लाल सिंह चड्ढा’ में भी उन्हें काम करने का न्यौता दिया था लेकिन बात बनी नहीं।

फिल्म मुंबईकर
– फोटो : अमर उजाला ब्यूरो, मुंबई

अपनी फिल्म ‘मुंबईकर’ के बारे में संतोष सिवान कहते हैं, ‘हर शहर की अपनी आत्मा होती हैं इसलिए मुंबई की भी एक अलग कहानी है। मुंबई अपने आप में एक चुंबक है। यहां का धर्म और संस्कृति लोगों को समस्त भारत से अपनी ओर खींचते हैं। यह शहर सपनों का है, आशाओं का है, जादू से भरा हुआ है। एक अजनबी भी यहां अपनी जिंदगी बदल सकता है। मुंबई सिर्फ एक शहर हो सकता है लेकिन मुंबईकर होना एक भावना है। इसलिए, हमारी फिल्म का शीर्षक भी वही है। कलाकार भी हमने अपनी फिल्म के लिए हर तरह के लिए हैं। और, ये सब फिल्म में जादू भर देंगे।’

विजय सेतुपति की फिल्म
– फोटो : अमर उजाला ब्यूरो, मुंबई

विजय सेतुपति की इन दिनों करीब 15 फिल्में कतार में हैं। उनकी दो तमिल फिल्मों ‘विक्रमवेधा’ और ‘96’ ने हिंदी पट्टी के दर्शकों को सबसे ज्यादा प्रभावित किया है। दोनों फिल्मों की हिंदी रीमेक अरसे से प्लानिंग में रही हैं। ‘विक्रमवेधा’ की रीमेक में ऋतिक रोशन और सैफ अली खान काम कर रहे हैं। विजय सेतुपति खुद भी हिंदी सिनेमा में कुछ अच्छी फिल्में करना चाहते हैं और इसी के चलते उन्होंने कैटरीना कैफ के साथ निर्देशक श्रीराम राघवन की फिल्म ‘मेरी क्रिसमस’ साइन की। ये फिल्म टिप्स म्यूजिक कंपनी बना रही है, जिसकी पिछली फिल्म ‘भूत पुलिस’ सीधे ओटीटी पर रिलीज हुई।

विजय सेतुपति
– फोटो : अमर उजाला ब्यूरो, मुंबई

बीते साल विजय सेतुपति की जो फिल्में रिलीज हुईं, उनमें फिल्म ‘मास्टर’ के अलावा ‘कुट्टी स्टोरी’, ‘उप्पेना’, ‘लाबम’  ‘तुगलक दरबार’ और ‘एनाबेल सेतुपति’ शामिल हैं। ‘एनाबेल सेतुपति’ को हिंदी में डब करके ‘एनाबेल राठौर’ के नाम से भी रिलीज किया गया, लेकिन इसे भी हिंदी क्षेत्र के दर्शकों ने खास पसंद नहीं किया। इन फिल्मों के अलावा विजय सेतुपति की जो फिल्में निर्माण के विभिन्न चरणों में हैं, उनमें मलयालम फिल्म ’19 (1) (ए)’, हिंदी फिल्में ‘मुंबईकर’ व ‘मेरी क्रिसमस’, मूक फिल्म ‘गांधी टॉक्स’ के अलावा तमिल फिल्में ‘कदाइसी विवासायी’, ‘मामनिथन’, ‘यादुम ऊरी यावरुम केलिर’, ‘काथू वाकुला रेंडु कादल’, ‘वीजेएस46’, ‘विदुथलाई’ और ‘विक्रम’ शामिल हैं। इन फिल्मों में से आधी की शूटिंग पूरी भी हो चुकी है। इनके अलावा कुछ और फिल्मों की बातचीत निर्णायक दौर में है।

Source link