SV Ramanan Death: फिल्म निर्माता और रेडियो पर्सनैलिटी एसवी रामनन का निधन, आज दी जाएगी अंतिम विदाई

एसवी रामनन

एसवी रामनन
– फोटो : social media

ख़बर सुनें

ख़बर सुनें

साउथ फिल्म इंडस्ट्री से एक दुखद खबर सामने आई है। जानकारी के मुताबिक, फिल्म निर्माता और रेडियो व टीवी विज्ञापनों में अपनी आवाज देने के लिए मशहूर एसवी रामनन का 26 सितंबर को सुबह निधन हो गया। वह 87 साल के थे। एसवी रामनन प्रसिद्ध तमिल फिल्म निर्माता सुब्रमण्यम के बेटे थे। उन्होंने करियर की शुरुआत अपने पिता के सहायता से की थी और बाद में कई रेडियो व टेलीविजन विज्ञापनों में काम किया। उनके प्रशंसक व सेलेब्स सोशल मीडिया पर उन्हें भावभीनी श्रद्धांजलि दे रहे हैं। जानकारी के मुताबिक, एसवी रामनन को आज अंतिम विदाई दी जाएगी।

निर्देशन के साथ रेडियो व टीवी में अपनी आवाज के लिए थे मशहूर

एसवी रामनन ने अपने करियर की शुरुआत एक नाटककार के रूप में की थी। इसके अलावा एसवी रामनन अपनी गोल्डन वॉइस से विज्ञापनों में जान डाल देते थे। 80 और 90 के दशक में उन्होंने रेडियो विज्ञापन से लेकर टेलीविजन तक के कई विज्ञापनों में अपनी आवाज से कई ब्रांड बनाने में मदद की। 1983 में उन्होंने वाई जी महेंद्र और सुहासिनी स्टारार फीचर फिल्म ‘उरुवांगल मरालम’ के लिए गानों को कंपोज करने के साथ ही निर्देशित भी किया। इस फिल्म में शिवाजी गणेशन, कमल हासन, रजनीकांत और जयशंकर जैसे कई जाने-माने अभिनेताओं ने गेस्ट अपीरियंस दर्ज करवाई थी। इसके अलावा उन्होंने अन्य कई डॉक्यूमेंट्री और सीरियल्स को भी निर्देशित किया।

 

एसवी रामनन का परिवार
निजी जिंदगी की बात करें तो एसवी रामनन के परिवार में उनकी पत्नी बामा रामनन और बेटियां लक्ष्मी व सरस्वती हैं। जाने-माने संगीतकार अनिरुद्ध रविचंदर उनके पोते हैं। 

विस्तार

साउथ फिल्म इंडस्ट्री से एक दुखद खबर सामने आई है। जानकारी के मुताबिक, फिल्म निर्माता और रेडियो व टीवी विज्ञापनों में अपनी आवाज देने के लिए मशहूर एसवी रामनन का 26 सितंबर को सुबह निधन हो गया। वह 87 साल के थे। एसवी रामनन प्रसिद्ध तमिल फिल्म निर्माता सुब्रमण्यम के बेटे थे। उन्होंने करियर की शुरुआत अपने पिता के सहायता से की थी और बाद में कई रेडियो व टेलीविजन विज्ञापनों में काम किया। उनके प्रशंसक व सेलेब्स सोशल मीडिया पर उन्हें भावभीनी श्रद्धांजलि दे रहे हैं। जानकारी के मुताबिक, एसवी रामनन को आज अंतिम विदाई दी जाएगी।

निर्देशन के साथ रेडियो व टीवी में अपनी आवाज के लिए थे मशहूर

एसवी रामनन ने अपने करियर की शुरुआत एक नाटककार के रूप में की थी। इसके अलावा एसवी रामनन अपनी गोल्डन वॉइस से विज्ञापनों में जान डाल देते थे। 80 और 90 के दशक में उन्होंने रेडियो विज्ञापन से लेकर टेलीविजन तक के कई विज्ञापनों में अपनी आवाज से कई ब्रांड बनाने में मदद की। 1983 में उन्होंने वाई जी महेंद्र और सुहासिनी स्टारार फीचर फिल्म ‘उरुवांगल मरालम’ के लिए गानों को कंपोज करने के साथ ही निर्देशित भी किया। इस फिल्म में शिवाजी गणेशन, कमल हासन, रजनीकांत और जयशंकर जैसे कई जाने-माने अभिनेताओं ने गेस्ट अपीरियंस दर्ज करवाई थी। इसके अलावा उन्होंने अन्य कई डॉक्यूमेंट्री और सीरियल्स को भी निर्देशित किया।

 

एसवी रामनन का परिवार

निजी जिंदगी की बात करें तो एसवी रामनन के परिवार में उनकी पत्नी बामा रामनन और बेटियां लक्ष्मी व सरस्वती हैं। जाने-माने संगीतकार अनिरुद्ध रविचंदर उनके पोते हैं। 

Source link